Budget 2024: चीन को पछाड़ टेक किंग बनेगा भारत…

0

Budget 2024: केंद्र सरकार ने 21वीं सदी में भारत को बढ़ावा देने के लिए बड़े कदम उठाए हैं. भारत विज्ञान और तकनीक में दुनिया के बड़े देशों से टक्कर ले रहा है. केंद्रीय बजट 2024 में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि 1 लाख करोड़ रुपये का फंड बनाया जाएगा, जो टेक्नोलॉजी क्षेत्र में इनोवेशन को बढ़ावा देगा और प्रेरित करेगा. टेक कंपनियां भी चीन से भारत आने वाली हैं.

चीन में बहुत सारी बड़ी टेक्नोलॉजी कंपनियां मैन्युफैक्चरिंग करती हैं, लेकिन पिछले कुछ वर्षों में उनका रुझान भारत की ओर बढ़ा है. सरकार ने इनोवेशंस से जुड़े निवेश को भारत में लाने और टेक्नोलॉजी कंपनियों को लुभाने की पूरी तैयारी कर ली है, जो चीन की वर्तमान टेक्नोलॉजी इंडस्ट्री को पीछे छोड़ रही है. वित्त मंत्री ने बताया कि भारत ने विदेशी कंपनियों के लिए अपने दरवाजे खोले हैं और स्वदेशी कंपनियों के साथ मिलकर नए विकास कर रहे हैं.

इनोवेशन से होगा विकास

बजट पेश करते समय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने अभिभाषण में कहा कि रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भरता और डीप-टेक टेक्नोलॉजी को मजबूत करने के लिए भी जल्द ही एक नया कार्यक्रम प्रस्तुत किया जाएगा. उन्होंने इनोवेशन को विकास की नींव बताते हुए जानकारी दी कि एक लाख करोड़ रुपये का कॉर्पस बनाया जाएगा, जो 50 साल का इंट्रेस्ट-फ्री लोन देगा. इससे खोज और नवाचार को बढ़ावा मिलेगा.

विदेशी बाजार की निर्भरता होगी कम 

बजट 2024 में उल्लिखित कॉर्पस इनोवेशन और खोज से जुड़ी कंपनियों को लंबे समय तक वित्तीय सहायता देगा और शून्य ब्याज दर पर लोन देगा. इस तरह सरकारी क्षेत्र को नए डोमेन्स में खोज और इनोवेशन में मदद करने की योजना है. यह भी एक बड़ा कदम है कि देश में तकनीकी टूल्स बनाने और विदेशी प्लेटफॉर्म्स पर निर्भरता कम करें.

Also Read:  Indian Railway: अब भरी ट्रेन में भी ऐसे मिलेगी खाली सीट …

भारत की ओर कंपनियों का रूझान

चीन में कोविड-19 महामारी के दौरान सप्लाई चेन प्रभावित हुई और कई टेक कंपनियों को भारी नुकसान हुआ. भारत विश्व के सबसे बड़े मार्केट्स में से एक है, इसलिए उत्पादन कंपनियां कम खर्च करके अधिक लाभ कमा सकती हैं. चीन के बजाय ऐपल और अन्य कंपनियां अब भारत में उत्पादन करना चाहते हैं. बजट में इस बार इस तरह का निवेश देश में इनोवेशन को लाभ पहुंचाएगा.

 

 

 

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More