एक ही कमरे में सगे भाई-बहन ने फांसी लगाकर दे दी जान, डिप्रेशन में थे दोनों

चंदौली जिले के पीडीडीयू नगर (मुगलसराय) के मकान में फंदे से लटकती मिली दोनों की लाशें

0

चंदौली जिले के पीडीडीयू नगर (मुगलसराय) के मकान में गुरूवार की रात सगे भाई-बहन में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. लेकिन इस घटना की जानकारी लोगों को शुक्रवार की रात हो सकी. भाई-बहन की खुदकुशी की जानकारी मिलते ही क्षेत्र में सनसनी फैल गई. बताया जा रहा है कि दोनों मानसिक रूप से परेशान थे. इसके कारण वह डिप्रेशन में चले गये थे. सूचना पर पहुंची पुलिस और फॉरेंसिक टीम ने मौके की जांच के बाद शवों को फंदे से उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा.

Also Read: डेटिंग एप टिंडर पर प्यार पड़ा भारी, योगा टीचर से 3 लाख का फ्रॉड

पीडीडीयू नगर के मुगलसराय कोतवाली क्षेत्र में लाठ नंबर दो भाग एक वार्ड स्थित एक मकान में रह रहे भाई बहन का शव रात आठ बजे पंखे की कुंडी से रस्सी के सहारे लटकता मिला. आसपास के लोगों के अनुसार दोनों कई दिनों से अवसाद में चल रहे थे. शव से दुर्गंध आ रही थी.

बहन का पति से हो चुका था तलाक, भाईयों के साथ रहती थी अंजू

जानकारी के अनुसार अंजू उर्फ गुड़िया गुप्ता (48) और कमलेश उर्फ राजू गुप्ता (42) अपने भाई के साथ जायसवाल स्कूल के पीछे निजी मकान में रहते थे. राजू गुप्ता अपनी बहन गुड़िया गुप्ता और भाई दीपू गुप्ता के साथ रहते थे. एक और भाई है जो परिवार के साथ अलग रहता है. रिश्तेदारों के अनुसार दीपू मंदबुद्धि है और वह भूतल के कमरे में रहता है. बहन अंजू का 12 वर्ष पहले तलाक हो चुका था जिसके बाद वह भाइयों के साथ ही रहती थी. इनके माता-पिता का निधन आठ साल पहले हो चुका है. शुक्रवार की रात आठ बजे पड़ोस काएक युवक इनके घर खाना देने आया तो उसकी मुलाकात दीपू से हुई. इसके बाद उसने अंजू और कमलेश के बारे में पूछा तो उसने बताया कि दोनों कल से ऊपर गए हुए हैं. इसके बाद वह जब ऊपर गया तो देखा कि एक ही कमरे में दोनों की लाश अलग-अलग कुंडी से रस्सी के सहारे फंदे से लटक रही है. सूचना पर मृतक के रिश्तेदार भी पहुंचे.

नहीं मिला सुसाइड नोट, मिली डिप्रेशन की दवाएं

सूचना पर सीओ अनिरुद्ध सिंह, मुगलसराय कोतवाली प्रभारी निरीक्षक विजय बहादुर सिंह फोर्स के साथ पहुंचे. मृतक का भाई मकान की निचली मंजिल में ही रहता था लेकिन उसे इस बात की जानकारी नहीं हो पाई. पुलिस की माने तो वह मंदबुद्धि का है. पुलिस के अनुसार गुड़िया और राजू ने गुरुवार को ही आत्महत्या कर ली थी. इन लोगों ने अपने पड़ोसी को इस बात की सूचना दी थी की वह शादी में जा रहे हैं और फिर ऊपर वाले कमरे में जाकर एक साथ आत्महत्या कर ली. पुलिस के बताया कि पड़ोस का एक व्यक्ति आया था और ऊपर कमरे में गया तो दोनों का फंदे से लटकता शव देखकर सन्न रह गया. उसने पुलिस को सूचना दी. घर से डिप्रेशन की कुछ दवाएं भी मिली है. हालाकि मौके से कोई भी सुसाइड नोट नहीं मिला है. प्रारंभिक तौर पर यह मामला डिप्रेशन के कारण सुसाइड का ही लग रहा है. लेकिन इसके अन्य कारणों की भी पुलिस जांच कर रही है.

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More