बिकरू कांड: शहीद CO की बेटी बनी OSD, सिपाही के भाई ने भी पहनी खाकी, जानें कहां मिली तैनाती

0 2,105

बिकरू कांड में शहीद हुए सीओ की बेटी वैष्णवी मिश्रा ने पुलिस सेवा जॉइन कर ली है। उन्हें विशेष कार्य अधिकारी (ओएसडी) के पद पर नियुक्ति किया गया है।

वहीं एक शहीद हुए एक सिपाही के भाई ने भी खाकी पहन ली है। दोनों की तैनाती कानपुर कमिश्नरी में की गई है। दोनों ने ड्यूटी ज्वाइन भी कर ली है।

बिकरू कांड दहल गया था देश-

गौरतलब है कि बिकरू कांड ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया था। दो जुलाई 2020 की रात पुलिस ने गैंगस्टर विकास दुबे की गिरफ्तारी के लिए बिकरू गांव में दबिश दी थी।

विकास दुबे व उसके गुर्गों ने हमला कर आठ पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी। इस घटना का सबसे ज्यादा असर उन परिवारों पर पड़ा, जिनके अपने शहीद हो गए थे।

वहीं, घटना के बाद प्रदेश सरकार ने मृतक आश्रितों के परिजनों को नौकरी देने की घोषणा की थी।

मृतक आश्रितों के परिजनों को मिली नौकरी-

इस घटना में बिल्हौर सीओ देवेंद्र मिश्रा भी शहीद हुए थे। मूल रूप से बांदा के रहने वाले बिल्हौर सीओ देवेंद्र मिश्रा की बड़ी बेटी वैष्णवी मिश्रा ने ओएसडी पद के लिए आवेदन किया था। एक साल तक चली प्रक्रिया के बाद वैष्णवी को नियुक्ति मिल गई है।

वहीं आगरा के फतेहाबाद थाना क्षेत्र के नगला लोहिया गांव निवासी सिपाही बबलू कुमार भी शहीद हुए थे। बबलू बिठूर थाने में तैनात थे। उनकी शहादत के बाद छोटे भाई उमेश ने भर्ती के लिए आवेदन किया था।

फिजिकल और मेडिकल परीक्षा पास करने के बाद उमेश ने यूपी पुलिस जॉइन किया है। नियुक्ति के बाद कानपुर पुलिस कमिश्नरी में ही उनको तैनाती मिली है। फिलहाल पुलिस लाइन में तैनात हैं।

यह भी पढ़ें: बिकरू कांड की पहले ही चेतावनी दे चुका था विकास दुबे, होश उड़ा देगा यह ऑडियो

यह भी पढ़ें: अब यूपी पुलिस के सिलेबस में शामिल होगा बिकरू हत्याकांड, पढ़ें क्यों लिया गया यह फैसला

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप हेलो एप्प इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

 

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More