मीडिया दफ्तरों पर IT की रेड के बाद एकजुट हुआ विपक्ष, सरकार को लिया आड़े हाथ…

0 404

देश के दो मीडिया हाउस दैनिक भास्कर और भारत समाचार के दफ्तरों पर गुरुवार सुबह आयकर विभाग ने छापेमारी की। देश के सबसे बड़े अखबार समूहों में से एक दैनिक भास्कर समूह के अलग अलग शहरों में स्थित दफ्तरों और ठिकानों पर रेड डाली गई। वहीं यूपी के उत्तर प्रदेश के प्रतिष्ठित न्यूज़ चैनल भारत समाचार के इडिटर इन चीफ और कर्मचारियों के लखनऊ स्थित ठिकानों पर छापे मारे गए।

विपक्ष हुआ एकजुट-

इस मामले पर विपक्ष एकजुट नजर आया। सभी विपक्षी दलों ने एक ही सुर में सरकार की आलोचना की। अरविंद केजरीवाल से लेकर दिग्विजय सिंह तक, सभी ने इस कार्रवाई को गलत बताया।

आम आदमी पार्टी (आप) प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इन छापों को तुरंत बंद करने और मीडिया को स्वतंत्र रूप से काम करने दिए जाने की मांग की।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा- ‘काग़ज़ पर स्याही से सच लिखना, एक कमज़ोर सरकार को डराने के लिए काफ़ी है।’

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भी इस कार्रवाई की निंदा की।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस बाबत ट्विट किया, “पत्रकारों और मीडिया घरानों पर हमला लोकतंत्र को कुचलने का एक और क्रूर प्रयास है। दैनिक भास्कर ने बहादुरी से रिपोर्ट किया है कि कैसे मोदी सरकार की लापरवाही से कोरोना के दौरान देश को भयानक दिन देखने पड़े।”

यह भी पढ़ें: भारत समाचार चैनल के एडिटर इन चीफ बृजेश मिश्रा के घर इनकम टैक्स का छापा

यह भी पढ़ें: दैनिक भास्कर के दफ्तरों पर इनकम टैक्स की रेड, टैक्स चोरी का आरोप

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप हेलो एप्प इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

 

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More