वो अभिनेत्री जिसने अश्लील सीन के सदमे में दे दी जान ?

0

आज के समय में फिल्मों में अश्लील सीन्स एक आम सी बात हो गयी है, कई बार फिल्मों में इतने अश्लील सीन दिखा दिए जाते हैं कि, सेंसर बोर्ड को या तो फिर फिल्म पर कैंची चलानी पड़ती है या फिल्म पर रोक लगानी पड़ जाती है. ऐसे में फिल्म देखने वाले हर दर्शक को लगता है, अभिनेता अभिनेत्री के लिए ये सब तो आम होता है, उन्हें कहां शर्म आती होगी. तभी तो, ये ऐसे अश्लील सीन्स और कपड़े आराम से पहन और फिल्मा लेते हैं.

लेकिन क्या आपको मालूम है, इन सीन्स का अभिनेता और अभिनेत्रियों पर भी काफी प्रभाव पड़ता है, एक अभिनेत्री तो ऐसी भी थी. जिसने अश्लील सीन की वजह से अपनी जान तक दे दी थी. वह अभिनेत्री कौन थी और उसके साथ क्या हुआ था इसकी पूरी कहानी हम आपको इस खबर में दिखाने जा रहे हैं. आइए जानते है उस अभिनेत्री के बारे में सबकुछ..

अश्लील सीन देने के बाद सदमें में आकर आत्महत्या करने वाली यह अभिनेत्री मलयालम सिनेमा की जानी मानी अभिनेत्रियों में से एक थी. इसका नाम विजयाश्री था. विजयाश्री ने अपने फिल्मी कैरियर की शुरूआत महज 13 साल की उम्र में कर दी थी, जिसके बाद उन्हें एक से बढकर एक फिल्म दी और 21 साल की उम्र में अश्लील सीन देने के बाद सदमें में आने के बाद उन्होने खुद को मौत के घाट उतार दिया.

बालकलाकार के तौर पर शुरू किया था कैरियर

विजयाश्री मलयालम सिनेमा की काफी खूबसूरत अभिनेत्रियों में से एक मानी जाती थी, यही कारण था कि, उन्हें 13 साल की उम्र से ही काम मिलना शुरू हो गया था. 13 साल की उम्र में उन्हे तमिल फिल्म चिट्ठी में एक बाल कलाकार की भूमिका अदा की थी. जिसमें उनके अभिनय को काफी पसंद किया गया था. इस फिल्म में उनकी खूबसूरती और अभिनय से प्रभावित होकर अन्य निर्देशको की तरफ से भी उन्हें कई ऑफऱ आने लगे थे.

जिसके बाद उन्होने अंगथट्टू (1973), पोस्टमैन कननिल्ला (1972), लंका दहनम (1971), मारविल थिरिवु सूकशिक्कुका ( 1972), पाचा नॉटुकल (1973), टैक्सी कार (1972), अरोमलुननी (1972) जैसी कई सारी हिट फिल्मों में अपना जबदस्त अभिनय का प्रदर्शन किया. उनका कैरियर अच्छी रफ्तार में दौड़ चला था. अपने कैरियर में उन्होने तमिल, तेलेगू और कन्नड़ भाषा की कई सारी हिट फिल्में दी थी.

यह फिल्म बनी मौत की वजह ?

विजयाश्री का कैरियर अच्छे मुकाम पर चल रहा था, लेकिन तभी उन्हें एक ऐसी फिल्म ऑफर हुई जो, उनकी मौत की वजह बन गयी. यह सुनने में थोड़ा अजीब लगता है क्योंकि, किसी का कैरियर ही उसकी मौत की वजह कैसे बन सकता है यह ख्याल आता है. लेकिन ऐसा हुआ है, साल 1973 में विजयाश्री को एक फिल्म ‘पोन्नापोरम कोट्टा’ का ऑफर आया. जिस तरह से वे बाकी फिल्म कर रही थी, उसी प्रकार उन्होने इस फिल्म का ऑफर आते है, हां कर दी और फिल्म शुरू भी हो गयी.

कैमरामैन ने कैद की अश्लील सीन 

फिल्म की शूटिंग के दौरान एक शॉट था, जिसमें विजयाश्री को झरने के नीचे बैठकर एक शॉट देना था. जिसके लिए उन्हें सफेद कपड़े पहनाए गए थे. पहले ही इस सीन को करने के लिए विजयाश्री थोड़ा अनकंर्फटेबल फील कर रही थी, लेकिन स्टोरी की मांग के चलते वे इस सीन को करने के लिए तैयार हो गयी और इस सीन की शूटिंग शुरू कर दी गयी. विजयाश्री सफेद रंग के कपड़े पहनकर जैसे ही शूटिंग के लिए झरने के नीचे पहुंची, इस दौरान उनके साथ मालफंक्शन हो गया. जिससे उनका वह सफेद कपड़ा थोड़ा सा खिसक गया और इस वजह से उनके पूरी शूटिंग टीम के सामने शर्मिंदा होना पड़ा.

हालांकि, कपड़े के खिसकते ही उन्होने तुरंत कपड़े को सही किया और शूटिंग को पूरा किया. लेकिन उनके साथ ही हुई यह घटना कैमरे में कैद हो गयी. इस घटना के दौरान कैमरा लगातार चलता रहा. इस बात की अभिनेत्री को जरा सी भी खबर नहीं लगी कि, उसके साथ हुआ यह हादसा कैमरे में कैद हो चुका है. इस बात का अभिनेत्री को पता जब चला जब फिल्म बनकर तैयार हो गयी. क्योकि, गलती से रिकॉर्ड हुए इस सीन को निर्देशक ने जानबूझ कर स्क्रीनिंग के दौरान मालफंक्शन फिल्म में शामिल कर लिया.

 Also Read: जानें क्या है ‘All Eyes on Rafah’ ?

अश्लील सीन की वजह से करनी पड़ी आत्महत्या

फिल्म में मालफंक्शन सीन को देखने के बाद विजयाश्री के पांव के नीचे से जमीन खिसक गयी और उन्होने तुरंत निर्देशक से इस सीन को हटाने को कहा, लेकिन डायरेक्टर ने उनकी एक न सुनी. वे काफी गिड़गिडाई लेकिन फिर भी डायरेक्टर उस सीन को हटाने के लिए तैयार नही हुआ. इस सीन की वजह से वे काफी चर्चा में रही थी, इस सब के बाद विजयाश्री काफी सदमें में आ गयी थी.  जब अश्लील सीन का यह सदमा उनके सहन से बाहर हो गया तो, उन्होने ने मौत को गले लगाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर दी. बताते हैं कि, वे अपने फ्लैट में मृत पायी गयी थी. उनकी बॉडी के पास किसी भी तरह का कोई सुसाइड नोट नहीं मिला था.

लेकिन उनकी मौत के बाद एक मलयाली न्यूज वेबसाइट मलयाली समयन डॉट कॉम में उनकी मौत का खुलासा करते हुए कहा गया था कि, फिल्म पोन्नापोरम कोट्टा का कैमरामैन उस सीन को लेकर विजयाश्री को ब्लैकमेल कर रहा था. इससे परेशान होकर विजयाश्री ने आत्महत्या कर ली. बताते हैं कि जिस समय विजया ने आत्महत्या की थी, उस समय भी उनके पास कई सारी बड़ी फिल्में थी.

 

  • Beta

Beta feature

  • Beta

Beta feature

  • Beta

Beta feature

  • Beta

Beta feature

  • Beta

Beta feature

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More